Saturday, February 24, 2024
Homeরাজ্য9-12वीं तक 30 फीसदी सिलेबस कम हो सकता है

9-12वीं तक 30 फीसदी सिलेबस कम हो सकता है

भिवानी/रवि जांगड़ा: कोरोना के कारण सभी स्कूल बंद हैं और बच्चों की पढाई पर बहुत ज्यादा असर पड़ रहा है।लेकिन कोरोना को मात देने के लिए हरियाणा शिक्षा बोर्ड ने शिक्षा विभाग  को 30 फिसदी सिलेबस कम करने का सुझाव दिया है। शिक्षा बोर्ड सचिव राजीव प्रसाद का मानना है कि इसके बाद बच्चों और अध्यापकों पर परीक्षा को लेकर अनावश्यक दबाव कम होगा।

कोरोना काल में हर कोई प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रुप से प्रभावित हुआ है। ऐसे में इसका असर स्कूलों, बच्चों व अध्यापकों के साथ हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड पर भी पड़ा है। स्कूल बंद होने के बाद देश का भविष्य कहे जाने वाले बच्चों के लिए ऑनलाईन पढाई शुरु करवाई गई। पर इसके बाद भी स्कूल जैसी शिक्षा दे पाना संभव नहीं। इसी की चलते शिक्षा बोर्ड ने कोरोना को मात देने के लिए सरकार के सुझाव के बाद शिक्षा सदन को 9वीं से 12वीं कक्षा के बच्चों का सिलेबस कम करने का मत दिया है।

शिक्षा बोर्ड सचिव राजिव प्रसाद ने बताया कि सरकार के सुझाव पर शिक्षा सदन की तरफ से बोर्ड के पास 9वीं से 12वीं कक्षा के सिलेबस को लेकर राय ली गई थी। उन्होंने बताया कि जब पढाई पूरी तरह से नहीं हो रही तो ऐसे में सिलेबस कम किया जाए। बोर्ड सचिव राजीव प्रसाद ने बताया कि इसको लेकर एस.सी.ई.आर.टी के एक्सपर्ट, स्कूलों व कॉलेज के प्रिंसिपलस व लेक्चर्रर्स के साथ मंथन कर शिक्षा बोर्ड ने बैठक की और उसमें अंतिम फैसला लिया गया। सचिव ने बताया कि ये फैसला 9वीं से 12वीं कक्षा तक के बच्चों का सिलेबस 30 फीसदी कम करने का लिया गया है। ताकि परीक्षा को लेकर बच्चों या अध्यापकों पर किसी प्रकार का अनावश्यक दबाव ना रहे। उन्होंने बताया कि 30 फीसदी सिलेबस कम करने का अब अंतिम फैसला शिक्षा सदन को लेना है।

RELATED ARTICLES
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it

Most Popular